Gross Domestic Product (GDP) Definition Example-gdp full form

 Gross Domestic Product (GDP) Definition Example-GDP full form

 
gdp-Gross-Domestic-Product-GDP-Definition-Example-first-to-use-GDP
 
दोस्तों आज हम बात करेंगे Gross Domestic Product (GDP) के बारे में और इसका क्या मतलब होता है और इसे कैसे कैलकुलेट किया जाता है। अगर आप अभी नहीं जानते है की Gross Domestic Product यानी की  (GDP) क्या है तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़े। 
 
अपने कई बार इस वर्ड को टेलीविशन , अखबार में देखा और पढा होगा की हमारे देश का Gross Domestic Product (GDP) इतना बढ़ गया है या फिर इतना कम हो गया है। और तब आपके मन में एक सवाल जरूर आता होगा की आखिर Gross Domestic Product (GDP) होता क्या है। चलिए हम इसके बारे में और अधिक जाने। 
 
 
 

What is GDP (Gross Domestic Product)? ⇉  किसी भी तय समय में जैसे कि एक साल में किसी भी देश में तैयार होने वाले उत्पाद और सेवा को मिला दिया जाए और उसकी कीमत मार्किट के हिसाब से लगा दी जाए तो उसे ही उस देश की Gross Domestic Product (GDP) कहा जायेगा। मतलब एक साल में उस देश में जितना प्रोडक्शन हुआ है उसे ही उस देश की (GDP) कहा जायेगा। 

 
 

किसी भी देश का Gross Domestic Product (GDP) तीन चीजों पर निर्भर करती है। 

  1. कृषि 
  2. उद्योग 
  3. सेवा 
और इन तीनो क्षेत्रो में उत्पादन बढ़ने या घटने के औसत के आधार पर (GDP) तय होती है। दोस्तों (जीडीपी) को अर्थबवस्था का सूचक भी कहा जाता है। क्योकि इससे मार्किट में होने वाले कारोबार की गति का पता चलता है। 
 
(जीडीपी ) में सिर्फ घऱेलू ,यानी की (domestic) सामान को ही गिना जाता है ,मतलब जो चीजे हमारे देश में बनी होती है उसी की वैल्यू को (जीडीपी) में जोड़ा जाता है  , जैसे मान लीजिये कोई प्रोडक्ट भारत में बनी है और वो भारत या किसी और देश में बिकती है तो उसे Gross Domestic Product (GDP) में जोड़ा जायेगा। 
 
अगर कोई प्रोडक्ट दूसरे देश में बनता है और आपके देश में आके बिकती है तो वह आपके देश के Gross Domestic Product (GDP) में काउंट नहीं किया जाएगा। किसी भी देश की अर्थवेवस्था की हालत कैसी है ये जानने का सबसे अच्छा तरीका है ( gdp ) .
 
 

Gross Domestic Product (GDP) को समझने के लिए Example ⇉

 
किसी भी देश के (GDP) को कैसे मापा जाता है इसको आसान भाषा में समझने के लिए चलिए मैं आपके समक्ष कुछ Example रखता हूँ जिससे आपको समझने में आसानी होगी। 
 
Example ⇨ मान लीजिये किसी देश में  एक साल में सिर्फ 100  मोबाइल फ़ोन बनता है और एक मोबाइल फ़ोन की कीमत 1000 रुपया है तो सभी मोबाइल फ़ोन की कीमत 100000 होगी , यही 100000 रूपया उस देश की (GDP) होगी। 
 
  1.  एक साल का मोबाइल फ़ोन का प्रोडक्शन ⇨ 100 मोबाइल फ़ोन 
  2. एक मोबाइल फ़ोन की कीमत ⇨ 1000   रुपया 
  3. सभी मोबाइल फ़ोन की कीमत ⇨ 100 x 1000 = 100000 
 

लेकिन (GDP) मापने का फॉर्मूला कुछ और है ,चलिए मैं आपको बताता हूँ। 

 
(GDP) measuring formulaGDP=C+I+G+(X-M)

 

 
 
C=Consumer Expenditure
 
I=Industries Investment
 
G=Government Expenditure 
 
X=Export – Import 
 
 

जैसे हम मान लेते है ⇨ 

 
Consumer Expenditure = 200$
 
Industries Investment = 200$
 
Government Expenditure =  200$
 
Export-Import = 200$  
 
 
Example ⇨ GDP=200$+200$+200$+(200$-200$)=600$
 
 
 

उदहारण के अनुसार जोड़ने और घटाने पर जो राशि बचती है वही उस देश की (GDP) होती है। 



Why is GDP (Gross Domestic Product) calculated? ⇒ चलिए मैं  आपको बताता हूँ की (जीडीपी) को कैलकुलेट क्यों किया जाता है। दोस्तों GDP (Gross Domestic Product) किसी भी देश की आर्थिकस्थिति के बारे में बताती है। साथ ही मैं आपको बताना चाहूँगा की (GDP) आमतौर एक साल की ही कैलकुलेट की जाती है।

 
 
(GDP) को कैलकुलेट करने के बाद जो नंबर आता है,तो उससे अलग-अलग देश की ( GDP ) से तुलना की जाती है और पता किया जाता है की दूसरे देशो के मुकाबले हमारे देश की GDP (Gross Domestic Product) कैसी है। 
 

चलिए अब हम जान लेते है की हमारे देश की (GDP) बढ़ती कैसे है। 

 

How does the country’s GDP grow? (देश की (GDP) कैसे बढ़ती है) ⇉ किसी भी देश की (GDP) तब बढ़ती है जब उस देश के निवासी उसी देश में बनी हुई चीजों खरीदते है ,जैसे अगर आप  भारत में रहते है और भारत में बनी चीजों को खरीदते है तो भारत की (GDP) बढ़ेगी ,लेकिन अगर आप भारत में रहकर किसी और देश की चीजे खरीदते है तो उस देश की (GDP) बढ़ेगी। 

 
 
 Who was the first to use GDP?(जीडीपी का इस्तेमाल सबसे पहले किसने किया ?) ⇒   (GDP) का इस्तेमाल सबसे पहले अमेरिका के एक अर्थशास्त्री (Simon Kuznets) ने 1934 से 1944 के दौरान अमेरिका की अर्थवेवस्था को मापने के लिए किया था इसके बाद 1944 में ब्रेटन वुड्स सम्मेलन के बाद, जीडीपी देश की अर्थव्यवस्था को मापने का मुख्य साधन बन गया। और आज हर देश अपने देश की अर्थवेवस्था को मापने के लिए इसका उपयोग कर रहा है।
One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Show Buttons
Hide Buttons